वक़्त और जरुरत के हिसाब से आदमी की सोच बदल जाती हे

वक़्त और जरुरत के हिसाब से आदमी की सोच बदल जाती हे,
जब चाय में मक्खी गिर जाती हे
तो चाय फेक देते हे
और
घी में गिर जाये तो मक्खी!! 😀😀😀