कभी कभी मजबूत हाथो से पकड़ी गयी उंगलिया भी छूट जाती हैं क्योंकि रिश्ते ताकत से नहीं दिल से निभाए जाते हैं